SUBMIT A COMPLAINT

goldsukhmistake in cheque

1 Review updated:

dear sir,

My name is Smt. Snehlata Shankar Salve ;
i am the member of your goldsukh scheme. Now a days i saw my a/c and i found ur mistake about my cheque.
My cheque was goes to another person's a/c.
i kindly request you to please clarify ur mistake earlier. My ID No :- 54448-1 & PASSWORD is :- 4yuAopFk. And my bank a/c no - [protected]
please don't ignor it and being proceed.
My ph no - [protected]
address - N - 45 C.B. 1/2/5
Trimurti Chowk Cidco,
Nashik- 422008

Sort by: UpDate | Rating

Comments

  • Ja
      Mar 11, 2011

    "गोल्ड सुख" (बिज़नेस प्‍लान)

    सोने का सुख - ‘गोल्ड सुख’

    १. ‘गोल्ड सुख’ कम्पनी, भारत सरकार, राज्य सरकार, एवं सम्बन्धित विभागों से पूरी तरह मान्य एवं
    बैध है; तथा अर्न्तराष्ट्रीय स्तर की मान्यता भी प्राप्त है। इसके अतिरिक्‍त ‘चेम्बर आफ़ कामर्स’ एवं
    ‘वर्ल्ड ट्रेड सेंटर’ की सदस्यता भी मिली हुई है।

    २. कम्पनी का व्यवसाय दिसम्बर २००८ से चल रहा है, पिछले वर्ष २३ जुलाई २०१० से कम्पनी ने
    ‘प्रकाशन माध्यम’ (समाचार जगत) में ‘गोल्ड सुख न्यूज़’ नामक ‘दैनिक समाचार पत्र’ के साथ
    प्रवेश किया है। यह ‘समाचार पत्र’ आनलाईन (इन्टरनेट) पर भी उपलब्ध है। निकट भविष्य में
    कम्पनी के शो रूमों के अलावा ‘रिटेल आऊटलेट्स’ भी आनेवाले हैं जिनकी प्रक्रिया पूरी हो चुकी है।

    ३. यदि आप सोना खरीदते हैं, तो आपका मूलधन तुरन्त प्राप्त हो जाता है और यदि आप अन्य उत्पाद
    खरीदना चाहते हैं, तो आपका मूलधन छः महीनों से डेढ़ वर्ष में आपको वापस मिल जाता है;
    उसके बाद तो लाभ ही लाभ है।

    ४. सोने की शुद्धता पूर्णतः असंदिग्ध है क्योंकि सोने के सिक्‍के २४ कैरेट शुद्ध सोने (Pure Gold) के
    होते हैं। और, ‘स्वर्ण आभूषण’ २२/२२ कैरेट सोने के हॊलमार्क (भारत सरकार का स्वर्ण आभूषण
    में सर्वोच्च मानदण्ड) प्रमाणित। तथापि अपनी संतुष्टि के लिए इनकी जाँच कहीं भी करवाई जा सकती है।

    ५. ‘गोल्ड सुख’ कंपनी ने बिजनेस प्‍लान में दो प्रकार के विकल्प दिये हैं :- (अ) सोना (सिक्‍के या आभूषण)
    खरीदकर या (आ) अन्य उत्पाद (ट्यूर पैकेज) खरीदकर। कम्पनी से सदस्यता लेने के बाद पहले दिन
    से लेकर आपकी बारहवीं क्‍लोज़िंग तक कभी भी सोना ख़रीदा जा सकता है।

    ६. उपरोक्‍त विकल्पों में चार तरह की श्रेणियाँ हैं - अपनी सुविधानुसार चुनने के लिए चार प्रकार का
    वर्गीकरण है:- (अ) दो युनिट:- स्वर्ण खरीद- रु.४८, ०००/-, अन्य उत्पाद- रु.६, ०००/- (आ) नौ युनिट:-
    स्वर्ण खरीद- रु.२, १६, ०००/-, अन्य उत्पाद- रु.२२, ९२०/- (इ) उन्चास युनिट:- स्वर्ण खरीद- रु.११, ७६, ०००/-,
    अन्य उत्पाद- रु.१, २०, ४८०/- (ई) दो सौ उन्चास युनिट:- स्वर्ण खरीद- रु.५९, ७६, ०००/-, अन्य उत्पाद-
    रु.६, ०३, ६५६/-


    -२-

    ७. कम्पनी किसी भी श्रेणी या विकल्प के अनुसार सभी ग्राहकों को अपने लाभ के अनुरूप उन्हें लाभांश प्रदान
    करती है। ग्राहकों को उनके वर्गीकरण के आधार पर, कम्पनी अपने लाभांश में से एक निश्चित राशि का चेक
    उनके (ग्राहकों) ‘बारह’ क्लोज़िंग तक देती है। जिसका निर्धारण कम्पनी के व्यावसायिक उन्नति (ग्रोथ)
    के आधार पर किया जाता है।

    ८. कम्पनी पाँच प्रकार के लाभांश का वितरण करती है :- (अ) कार्य नहीं करने का (i) वेलकम (ii) ग्रोथ
    एवं (आ) कार्य करने का - (i) रेफ़रल इन्कम (ii) पेयर/बाइनरी इन्कम (iii) इन्ट्रोड्यूस्ड इन्कम।

    ९. कम्पनी के लाभांश का लाभ ग्राहक के चुने गये विकल्प एवं श्रेणी के साथ-साथ कम्पनी के व्यावसायिक उन्नति
    के आधार पर दिया जाता है।

    १०. ग्राहकों के विभिन्न प्रकार के लाभांश का वितरण ‘चेक’ एवं ‘एन० ई० एफ़० टी०’ के द्वारा (टी० डी० एस०
    आदि काटकर) किया जाता है।

    ११. उपरोक्‍त लाभांश ग्राहकों के जुड़ने के बाद उनके (अगले) १२ (बारह) क्लोज़िंग में उन्हें दिया जाता है। सम्बन्धित
    जानकारी ‘वेब-साईट’ पर भी उपलब्ध है।

    १२. क्लोज़िंग का समय साधारणतः तीन महीनों का होता है, जो कि १००% व्यापारिक उन्नति के लक्ष्य को प्राप्त
    करने के अनुसार होता है।

    १३. अभी तक कम्पनी की सभी क्लोजिंग १००% व्यावसायिक उन्नति के आधार पर ही हुई है, एवं वर्तमान समय
    में कम्पनी की १६वीं क्लोज़िंग चल रही है; जिसकी भी ऐसी ही सम्भावना है।

    १४. १००% लक्ष्य से निम्नलिखित लाभ हैं-- (अ) सभी ग्राहकों और सदस्यों को पूरा-पूरा लाभ मिलता है।
    (आ) हर ग्राहक/सदस्य की आर्थिक स्थिति में निरन्तर वृद्धि होती है। (इ) उनके रहन-सहन और जीवन
    स्तर में लगातार बेहतर सुधार होता है। (ई) उनलोगों के घर-परिवार, रिश्ते-नातेदार, यार-दोस्त,
    पास-पड़ोसियों के लिए एक विश्वसनीय एवं अनुकरणीय आय श्रोत का मार्ग (उ) सम्बन्धित लोगों के
    आत्मविश्वास, स्वाभिमान, आर्थिक सुदृढ़ता में वृद्धि और दूसरों के लिए प्रेरणा श्रोत।


    -३-

    १५. जब तक आपका मूलधन (Principal Amount) आपको वापस नहीं मिल जाता है तब तक तो आपको
    लाभांश पूरी तरह मिलता रहेगा, उसके बाद लाभांश का एक भाग आपको चेक या एन० ई० एफ़० टी०
    के द्वारा दे दिया जायेगा; दूसरा भाग आपके ‘इलेक्ट्रानिक्स पर्स’ (E-Wallet) में डाल दिया जायेगा। अभी
    २५% का भुगतान चेक के द्वारा एवं ७५% भुगतान ‘इलेक्ट्रानिक्स पर्स’ के द्वारा किया जाता है।

    १६. इलेक्ट्रानिक्स पर्स / E-Wallet आपका एक ऒनलाईन पर्स (Online Perse) है, जिसमें जमा राशि आप
    अपनी सुविधानुसार कभी भी निकाल सकते हैं; जब भी किसी को कोई उत्पाद (कम्पनी से) खरीदना हो।

    १७. कम्पनी अपने हर विक्रय पर १०% का लाभ अर्जित करती है, जिसमें से ६% का लाभांश वह अपने ग्राहकों के बीच
    बाँटती है एवं ४% के लाभांश से कम्पनी के खर्चों का वहन किया जाता है।


    १८. कम्पनी के कार्यों को अच्छे ढंग से करने वालों के लिए विशेष उपहार भी दिये जाते हैं, जो कि अलग- अलग तरह के
    होते हैं; और एक निश्‍चित समयावधि के लिये होता है।

    १९. ‘गोल्ड-सुख’ कम्पनी के 'Easy Help Scheme 2010' के द्वारा किसी सदस्य के आकस्मिक (दुर्घटना) मृत्यु
    होने पर उसके नामांकित व्यक्ति के नाम पर उसके I.D.No. को परिवर्तित कर दिया जाता है और उसकी
    सदस्यता राशि भी उसको (Nominee) वापस कर दी जाती है, तथा उसकी सदस्यता भी लागू (चालू) रहती
    है। इस तरह इस योजना से तीन प्रकार के लाभ प्राप्त होते हैं।

    २०. मुख्यतः कम्पनी सोने में निवेश करने के लिए प्रेरित करती है, जिसके तीन प्रत्यक्ष लाभ हैं - (१) आप अपने सोने
    को बेचकर कभी भी अपना रुपया वापस पा सकते हैं। (२) यदि एक निश्‍चित समय अन्तराल तक सोने को
    अपने पास रखते हैं तो एक सुनिश्‍चित लाभ (मूल्य वृद्धि अनुसार) आपको प्राप्त होता है। (३) गोल्ड सुख ट्रेड
    इन्डिया लिमिटेड कम्पनी आपके निवेश के अनुरूप अपने लाभांश का एक हिस्सा भी देती है।


    २१. युनिट की परिभाषा:- युनिट वह ईकाई है जिसके आधार पर सभी प्रकार की गणना की जाती है- यथा ग्राहक का
    वर्गीकरण, कुल विक्रय की गणना एवं कम्पनी की ग्रोथ आदि।


    -४-

    २२. क्लोज़िंग का आशय:- वर्तमान क्लोज़िंग (‘१५वीं’ का कुल युनिट विक्रय) के अतिरिक्त पुनः उतने ही युनिटों का
    विक्रय हो जाने पर अगली क्लोज़िंग (१६वीं) की घोषणा की जाती है। इस प्रकार के प्राप्त परिणाम को १००%
    व्यावसायिक उन्नति (ग्रोथ) कहा जाता है। यदि किसी ‘क्लोज़िंग’ में ‘व्यावसायिक उन्नति’ (ग्रोथ) में कमी आ
    जाती है तो उसके अनुसार ग्राह्कों को मिलने वाले लाभांश (राशि) में भी कमी आ जायेगी।

    २३. ‘क्लोज़िंग’ का समय निर्धारण:- साधारणतः १००% व्यावसायिक उन्नति (ग्रोथ) के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए
    ९० दिनों (कार्यकारी) का निर्धारण किया गया है, यदि निर्धारित समय-सीमा में लक्ष्य की प्राप्ति नहीं हो पाती है तो
    ३० दिनों का अतिरिक्‍त समय भी लगाया जायेगा। तदनुरूप होने वाले लाभांश की घोषणा सम्बन्धित क्लोज़िंग
    में की जायेगी।

    २४. कम्पनी की आय एवं लाभांश वितरण:- कम्पनी के प्रत्येक उत्पाद पर १०% का लाभांश अर्जित होता है, जिसमें
    से ६% का वितरण ग्राहकों के बीच कर दिया जाता है एवं शेष ४% का उपयोग कम्पनी के व्ययों में किया जाता है।
    ग्राहकों को कुल पाँच प्रकार की आय दी जाती है- दो प्रकार, ‘नान वर्किंग’(काम नहीं करने) का है एवं अन्य तीन
    ‘वर्किंग’(काम करने का) है। सभी प्रकार के आय का वितरण चेकों के द्वारा तथा टी० डी० एस० आदि काटकर दिया
    जाता है।

    २५. वस्तुतः ‘गोल्ड सुख’ अभियान के अनुसार इससे सुन्दर और सुगम उपाय दूसरा कोई नहीं है जिससे
    आर्थिक सुदृढ़ता और क्रय शक्ति का विकास सम्भव हो सके।

    विशेष द्रष्‍ट्रव्य -
    ‘गोल्ड सुख’ ग्रुप आफ़ कम्पनीज़ (I) गोल्ड सुख ट्रेड इंडिया लिमिटेड
    (II) गोल्ड सुख क्लब हालीडेज (III) गोल्ड सुख न्यूज़ एन्ड मीडिया
    (IV) गोल्ड सुख ज्वेलर्स (V) गोल्ड सुख कार्पोरेशन लिमिटेड
    पाँच शोरूम, सत्ताईस शाखाएँ, एक लाख से अधिक ग्राहक श्रृँखला,
    देश भर में आने वाले दो सौ से अधिक ‘फ़्रेंचाईज़ी’...
    अधिक जानकारी के लिए-www.goldsukh.com / www.goldsukh.in
    ई-मेल:- [protected]@goldsukh.com / [protected]@goldsukh.in फ़ैक्स-[protected]
    टोल फ़्री-[protected] फ़ोन-[protected] / 05 या [protected] विस्तार)

    0 Votes
  • Ja
      Mar 11, 2011

    "सवाल आपके, जवाब हमारे"

    प्रश्न १ - "गोल्ड - सुख" क्या है ?
    उत्तर - "गोल्ड सुख" एक अभियान है, जिसका संचालन "गोल्ड सुख ट्रेड इन्डिया लिमिटेड" के द्वारा किया जाता है।
    प्रश्ना २ - "अभियान" का अभिप्राय (आशय) क्या है ?
    उत्तर - इस अभियान के अर्न्तगत सोने में निवेश करने के लिये प्रेरित किया जाता है।
    प्रश्ना ३ - सोने (Gold) में निवेश करने से क्या लाभ है ?
    उत्तर - सोने में निवेश करने के तीन प्रत्यमक्ष लाभ हैं - (१) आप अपने सोने को बेचकर कभी भी अपना रुपया वापस पा सकते हैं। (२) यदि एक निश्चिोत समय अन्तराल तक सोने को अपने पास रखते हैं तो एक सुनिश्चि‍त लाभ (मूल्य वृद्धि अनुसार) आपको प्राप्त होता है। (३) गोल्ड सुख ट्रेड इन्डिया लिमिटेड कम्पनी आपके निवेश के अनुरूप अपने लाभांश का एक हिस्सा भी देती है।
    प्रश्नह ४ - कम्पनी द्वारा लाभांश किस आधार पर दिया जाता है?
    उत्तर - जैसा कि उपरोक्तप उत्तर में बताया जा चुका है कि आपके द्वारा किये हुए निवेश के अनुसार लाभांश aaaaaaaaaaaaa का हिस्सा (भाग) आपको दिया जाता है, जिसका आधार कम्पनी की क्लोवज़िंग को माना जाता है।


    -2 -
    प्रश्नै ५ - क्लो ज़िंग का क्याा तात्पर्य है ?
    उत्तर - क्लो-ज़िंग का तात्पर्य यह है कि पिछली क्लो।ज़िंग के युनिटों के योग में पुनः उतने ही युनिटों का योग कर देना, अर्थात्‌ यदि पिछली क्लोमज़िंग का योग =१०० है तो अगली क्लोथज़िंग पर १००+१००= २०० युनिट होना चाहिए।
    प्रश्नह ६ - युनिट और क्लोलज़िंग का क्या सम्बन्ध है ?
    उत्तर - युनिट, व्यावसायिक गणना की इकाई है, कुल युनिटों के अगली क्लोरज़िंग तक उपरोक्ताानुसार दोगुना होने पर व्यावसायिक उन्नति को १००% प्रगति (Growth) का आंकलन किया जाता है।
    प्रश्नह ७ - १००% लक्ष्यज से क्या लाभ हैं ?
    उत्तर - १००% लक्ष्य से निम्नलिखित लाभ हैं-- (अ) सभी ग्राहकों और सदस्यों को पूरा-पूरा लाभ मिलता है। (आ) हर ग्राहक/सदस्य की आर्थिक स्थिति में निरन्तर वृद्धि होती है। (इ) उनके रहन-सहन और जीवन स्तर में लगातार बेहतर सुधार होता है। (ई) उनलोगों के घर-परिवार, रिश्तेल-नातेदार, यार-दोस्त, पास-पड़ोसियों के लिए एक विश्वससनीय एवं अनुकरणीय आय श्रोत का मार्ग (उ) सम्बन्धित लोगों के आत्मविश्वाकस, स्वाभिमान, आर्थिक सुदृढ़ता में वृद्धि और दूसरों के लिए प्रेरणा श्रोत।
    प्रश्न ८ - क्या उपरोक्तण प्रक्रिया का कोई समय निर्धारण है?
    उत्तर - सामान्यतः समय का निर्धारण (एक क्लो ज़िंग से दूसरी क्लोसज़िंग के मध्य का अन्तराल) ६० कार्यकारी दिनों का होता है, तथापि यदि ग्राहकों का समयानुसार बेहतर सहयोग प्राप्त हो तो यह (क्लोहज़िंग) समयपूर्व भी सम्पन्न हो सकता है।
    -3-

    प्रश्न् ९ - यदि निर्धारित समय व्यतीत होने पर भी १००% (प्रगति)/क्लो-ज़िंग नहीं हो पाती है, तो फिर क्या होगा ?
    उत्तर - अव्वल तो कभी ऐसा होगा नहीं, क्योंकि अगर देश भर में फैली हुई २५ शाखायें, कुल निर्धारित लक्ष्यक का केवल ५-५% भी अपने स्तर पर पूरा करेंगे तो भी १००% क्लोनज़िंग अपने समय पर हो जायेगी। फिर भी यदि कभी ऐसा नहीं हो पाता है तो जितने प्रतिशत्‌ भी कम्पनी की प्रगति (Growth) होगी, उतने प्रतिशत्‌ का लाभांश हर ग्राहक/सदस्य को दे दिया जायेगा। हालाँकि अभी तक (१४वीं क्लोतज़िंग) कम्पनी ने १००% प्रगति के लक्ष्या को ही प्राप्त किया है।
    प्रश्नक १० - कम्पनी कब तक प्रगति (Growth) करती रहेगी ?
    उत्तर - जब तक देश के जन-जन को "सोने का सुख" (GOLD SUKH) ना मिल जाये। अब तक देश भर में कम्पनी की २५ शाखाएँ कार्यरत हैं। ७०, ००० (सत्तर हज़ार) बहुमूल्य संतुष्टै ग्राहकों की श्रृंखला एवं निकट भविष्यय में (अतिशीघ्र) लगातार चार शो्रूमों का उद्‌घाटन भी होनेवाला है।
    प्रश्नय ११ - क्या कम्पनी उपरोक्तश कार्य कलापों के लिए बैध एवं मान्यता प्राप्त है?
    उत्तर - जी, हाँ! कम्पनी, भारत सरकार, राज्य सरकार, एवं सम्बन्धित विभागों से पूरी तरह मान्य एवं बैध है; तथा अर्न्तराष्ट्रीकय स्तर की मान्यता भी प्राप्त है।


    -4-


    प्रश्ना १२ - हमारे द्वारा सोने में किये गये निवेश की क्या गारंटी है ?
    उत्तर - यदि आप सोना खरीद कर निवेश करते हैं, तो आपका मूलधन तुरन्त प्राप्त हो जाता है और यदि आप सदस्यता लेकर लाभ उठाना चाहते हैं, तो आपका मूलधन एक से छः महीनों में आपको वापस मिल जाता है; उसके बाद तो लाभ ही लाभ है।
    प्रश्नै १३ - सोने की शुद्धता का क्या प्रमाण है ?
    उत्तर - सोने की शुद्धता पूर्णतः असंदिग्ध है क्योंकि सोने के सिक्केल २४ कैरेट शुद्ध सोने (Pure Gold) के होते हैं। और, ‘स्वर्ण आभूषण’ २२/२२ कैरेट सोने के हॊलमार्क (भारत सरकार का स्वर्ण आभूषण में सर्वोच्चो मानदण्ड) प्रमाणित। तथापि आप अपनी संतुष्टिा के लिए इनकी जाँच कहीं भी करवा सकते हैं।
    प्रश्नै १४ - कम्पनी अपना व्यवसाय कब से कर रही है एवं भावी योजनाएँ क्या हैं?
    उत्तर - कम्पनी का व्यवसाय दिसम्बर २००८ से चल रहा है, हाल ही में २३ जुलाई २०१० से कम्पनी ने ‘प्रकाशन माध्यम’ (समाचार जगत) में ‘गोल्ड सुख न्यूज़’ नामक ‘दैनिक समाचार पत्र के साथ प्रवेश किया है। निकट भविष्यु में कम्पनी के शोरूमों के अलावा ‘रिटेल आऊटलेट्‌स’ भी आनेवाले हैं जिनकी प्रक्रिया लगभग पूरी हो चुकी है।


    -5-

    प्रश्नव १५ - कम्पनी के चलते रहने का (बन्द नहीं होने का) क्या आश्वारसन है ?
    उत्तर - किसी भी लाभान्वित, व्यावसायिक प्रतिष्ठाबन के बन्द होने का कोई कारण नहीं होता, क्योंकि व्यवसाय लाभ कमाने के लिए ही होता है। व्यापार का आंकलन उसके विस्तार से किया जाता है। और, कम्पनी निरन्तर विकास की ओर अग्रसर है।
    प्रश्नर १६ - कम्पनी ग्राहकॊं/सदस्यों को लाभ क्यों दे रही है ?
    उत्तर - इसका सबसे बड़ा कारण यह है कि "गोल्ड सुख" (सोने का सुख) अभियान के परिकल्पना को साकार करने का इससे सुन्दर और सुगम उपाय दूसरा कोई नहीं है, आपके क्रय शक्ति का विकास आर्थिक सुदृढ़ता पर ही निर्भर करता है। इसके अतिरिक्ते आपकी उपलब्धि के अनुसार आप दूसरे को भी प्रेरित करते हैं।
    प्रश्न १७ - कम्पनी इतना लाभ कहाँ से दे रही है?
    उत्तर - कम्पनी हर विक्रय पर १०% लाभ कमाती है, उस लाभ में से ६% का लाभांश कम्पनी अपने ग्राहकों/सदस्यों को बाँट देती है और ४% के लाभांश से कम्पनी अपने व्ययों का निष्पासदन करती है। सारे वितरण इसी प्रणाली पर आधारित हैं, इसीलिए सभी वितरण इसी अनुसार आसानी से हो जाते हैं।
    प्रश्न १८ - ग्राहक/सदस्य के लाभांश का वितरण कैसे किया जाता है?
    उत्तर - ग्राहक/सदस्य के लाभांश में से १५% टी० डी० एस०, प्रोसेसिंग एवं प्रशासनिक शुल्क काटकर शेष राशि का भुगतान चेक अथवा एन० ई० एफ़० टी० (नेशनल इलेक्ट्रा निक्से फ़ण्ड ट्रांसफ़र) द्वारा कर दिया जाता है।
    -6-

    प्रश्नन १९ - ‘गोल्डर - सुख’ कम्पनी से जुड़ने के लिए क्या करना होगा ?
    उत्तर - ‘गोल्डे - सुख’ से जुड़ने के लिए आपको लगभग ५०, ०००/-(पचास हज़ार रुपये), सवा दो लाख रुपये अथवा इससे अधिक राशि का सोना (सिक्केे/ज़ेवर) खरीदना होगा। अथवा, छः हज़ार, तेईस हज़ार रुपये या अधिक देकर कम्पनी की सदस्यता भी ले सकते हैं।
    प्रश्नक २० - सोना कहाँ से ख़रीदा जा सकता है ?
    उत्तर - सोना हमारे किसी भी शोरूम/रिटेल आऊटलेट से ख़्ररीदा जा सकता है, इसके अतिरिक्ते यदि आप स्व/यं नहीं आ सकते तो ‘आनलाईन’ इन्टररनेट के द्वारा भी ख़रीद सकते हैं।
    प्रश्नल २१ - सदस्यद बनने की क्या प्रक्रिया है?
    उत्तर - हमारे वेब साईट्स पर ‘आनलाईन’ फ़ार्म भरें, या फ़ार्म डाऊनलोड करके भरें; और रुपये जमा करें (सभी आवश्यनक विवरण, साफ़-साफ़ एवं पूरी तरह भरें)। तथा साथ में दो फोटो, पैन कार्ड एवं पहचान-पत्र की छाया प्रतिलिपि भी लगायें।
    प्रश्न् २२ - सोना किस भाव/दर से दिया जाता है?
    उत्तर - जिस दिन सोना ख़रीदा जाता है उसी दिन के बाज़ार भाव पर सोना दिया जाता है।
    प्रश्नि २३ - क्या आपसे ख़रीदा हुआ सोना आपको बेचा जा सकता है?
    उत्तर - जी, हाँ। हमारे यहाँ से ख़्ररीदा हुआ सोना, हमें कभी भी बेचा जा सकता है।
    -7-
    प्रश्नै २४ - कम्परनी के सदस्यु को क्या करना पड़ेगा ?
    उत्तर - यूँ तो कुछ करने की कोई बाध्यता नहीं है, फिर भी यदि आप अपनी सदस्यता राशि को शीघ्र प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको थोड़ी-सी मेहनत करनी पड़ेगी, जिसके आधार पर आप कुल चार प्रकार की आय प्राप्त कर सकेंगे और अपनी सदस्यता राशि एक महीने में भी वापस प्राप्त कर सकते हैं।
    प्रश्ने २५ - क्या हमें कम्पनी का लाभांश बिना कार्य करते हुए भी मिलता रहेगा ?
    उत्तर - जब तक आपका मूलधन (Principal Amount) आपको वापस नहीं मिल जाता है तब तक तो आपको लाभांश पूरी तरह मिलता रहेगा, उसके बाद लाभांश का एक भाग आपको चेक या एन० ई० एफ़० टी० के द्वारा दे दिया जायेगा; दूसरा भाग आपके ‘इलेक्ट्रा निक्सप पर्स’ (E-Wallet) में डाल दिया जायेगा।
    प्रश्ना २६ - ये ‘इलेक्ट्रा निक्सस पर्स’ या 'E-Wallet' क्या है?
    उत्तर - इलेक्ट्रा निक्से पर्स / E-Wallet आपका एक ऒनलाईन खाता (Online Account) है, जिसमें जमा राशि आप अपनी सुविधानुसार कभी भी निकाल सकते हैं; जब भी किसी को अपने साथ (कम्पनी से) जोड़ना हो।
    प्रश्नस २७ - क्या इनके अतिरिक्त भी कम्पनी कोई लाभ प्रदान करती है?
    उत्तर - जी, हाँ। समय-समय पर कम्पनी की ओर से उपहार (Gift) योजना चलाई जाती है, तथा लीडरों के लिए विशेष योजनाएँ चलाई जाती हैं; जिसका लाभ भी बराबर और समयानुसार दिया जाता है।


    -8-
    प्रश्नल २८ - क्या सदस्य को दुर्घटना/मृत्यु का भी कोई लाभ प्राप्त होता है ?
    उत्तर - जी, हाँ। ‘गोल्ड-सुख’ कम्पनी के 'Easy Help Scheme 2010' के द्वारा किसी सदस्य के आकस्मिक (दुर्घटना) मृत्यु होने पर उसके नामांकित व्यक्तिस के नाम पर उसके I.D. No. को परिवर्तित कर दिया जाता है और उसकी सदस्यता राशि भी उसको (Nominee) वापस कर दी जाती है, तथा उसकी सदस्यता भी लागू(चालू) रहती है। इस तरह इस योजना से तीन प्रकार के लाभ प्राप्त होते हैं।
    प्रश्न २९ - कम्पनी के कार्य का संचालन कहाँ से होता है, एवं कोई व्यक्तिm कहाँ पर जुड़ सकता है ?
    उत्तर - कम्पनी के कार्य का मुख्य संचालन जयपुर (राजस्थान) से होता है, इसके अतिरिक्तर देश भर में फैली २५ शाखाओं से भी कार्य का संचालन किया जाता है। कोई भी व्यक्ति भारत/विश्वच में से कहीं से भी जुड़ सकता है (अपनी सुविधानुसार किसी भी शाखा में जाकर या इन्टरनेट के माध्यम से)।
    प्रश्ने ३० - कम्पनी की क्लोैज़िंग कब तक होती रहेगी?
    उत्तर - जब तक सोने की ख़रीद-बिक्री होती रहेगी, और ग्राहक/सदस्य बनते रहेंगे; तब तक कम्पनी की क्लो-ज़िंग होती रहेगी।
    प्रश्नह ३१ - आनेवाले समय में (१५वीं क्लो्ज़िंग के बाद) कम्पनी की कितने प्रतिशत्‌ ग्रोथ हो पायेगी?
    उत्तर - कम्पनी की जड़ें इतनी मज़बूत हो चुकी हैं कि एक-एक ग्राहक/सदस्य १००% की प्रगति (Growth) दे सकता है। हर ग्राहक/सदस्य केवल ५०% साथ निभाये, कम्पनी १००% निभायेगी।
    -9-
    प्रश्नत ३२ - सदस्यता लेने के बाद कम्पनी से सोना कब तक ख़रीदना होगा ?
    उत्तर - कम्पनी से सदस्यता लेने के बाद पहले दिन से लेकर आपकी बारहवीं क्लो-ज़िंग तक कभी भी सोना ख़रीदा जा सकता है।
    प्रश्नं ३३ - उपहार योजना का लाभ कब और कैसे मिलता है ?
    उत्तर - साधारण तौर पर उपहार योजना के अर्न्तगत आनेवाले लाभ के साथ-साथ उनके समयावधि का भी उल्लेयख किया जाता है फिर भी इनकी विस्तृत जानकारी "ग्राहक सेवा" (Customer Care) या ‘वेबसाईट’/ ‘ई-मेल’ के द्वारा ली जा सकती है।
    प्रश्ना ३४ - क्या कम्पनी ‘स्वर्ण व्यवसाय’ के अतिरिक्त- भी किसी क्षेत्र में कार्य कर रही है ?
    उत्तर - जैसा कि पीछे भी बताया जा चुका है कि ‘प्रकाशन माध्यम’ (Print Media) का कार्य भी जुलाई २०१० से प्रारम्भ हो चुका है, इसके साथ ही कम्पनी ‘भूमि व्यवसाय’ (Real Estate Business) का कार्य भी अतिशीघ्र शुरु करनेवाली है।
    प्रश्नर ३५ - यदि मैं आज कम्पनी से जुड़ता हूँ तो मेरी कौन सी क्लोकज़िंग होगी?
    उत्तर - चूँकि अभी कम्पनी की १५वीं क्लो ज़िंग चल रही है और यदि आप इसी क्लो ज़िंग में प्रवेश करते हैं तो आपकी पहली क्लो ज़िंग १६वीं क्लोकज़िंग में होगी, अर्थात्‌ १६वीं क्लोलज़िंग सम्पन्न होने के बाद आपको, आपका पहला ‘पे-आऊट’ (चेक / एन० ई० एफ़० टी०) मिलेगा।


    -10-


    प्रश्नह ३६ - ‘गोल्ड-सुख’ कम्पनी से जुड़कर मैं कितने रुपये कमा सकता हूँ ?
    उत्तर - यह पूरी तरह आपकी योग्यता, कार्यक्षमता और इच्छानशक्ति पर निर्भर करता है; कमाने की कोई सीमा नहीं है आप लाखों भी कमा सकते हैं और करोड़ों भी, क्योंकि कई लोग कमा भी चुके हैं - अब आप की बारी है। "आगे आयें, लाभ उठायें" |

    "ना कोई चिन्ता रहे ना दुःख, सब को मिले सोने का सुख"
    - ‘गोल्ड-सुख’

    www.goldsukh.in/www.goldsukh.com
    E-mail: [protected]@goldsukh.in/[protected]@goldsukh.in

    0 Votes

Post your comment